राज्य (महिला/पुरूष) बीच व्हाॅलीबाल प्रतियोगिता का भोपाल में आयोजन पहली बार
प्रतियोगिता का शुभारंभ 20 अक्टूबर को होगा-25 टीमों की भागीदारी


भोपाल। प्रथम मध्य प्रदेश राज्य (महिला/पुरूष) बीच व्हाॅलीबाल प्रतियोगिता का आयोजन म.प्र.अमेच्योर व्हाॅलीबाल संघ एवं खेल और युवा कल्याण विभाग के संयुक्त तत्वावधान में 20 से 23 अक्टूबर, 2019 तक टी.टी. नगर स्टेडियम में किया जायेगा। प्रतियोगिता में पुरूष वर्ग की 13 एवं महिला वर्ग की 12 टीमें भागीदारी करेंगी। प्रतियोगिता का शुभारंभ रविवार 20 अक्टूबर को सायं 6.00 बजे मध्य प्रदेश पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन लिमिटेड के अध्यक्ष (महानिदेशक) डाॅ. शैलेन्द्र श्रीवास्तव करेंगे।

इन टीमों की रहेगी भागीदारी

तीन दिवसीय राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में प्रदेश के विभिन्न जिलों की कुल 25 टीमें भागीदारी करेंगी। पुरूष वर्ग पूल ए में आरसीसी भोपाल, नरसिंहपुर और रतलाम, पूल बी में भोपाल कार्पोरेशन, नरसिंहपुर जिला और ग्वालियर कार्पोरेशन पूल सी में ग्वालियर जिला, जबलपुर कार्पो., बैतूल जिला तथा पूल डी में जबलपुर जिला, पी.ए. ग्वालियर, खरगौन एवं मंदसौर जिले की टीमें शामिल है।
इसी तरह महिला वर्ग पूल ए में जबलपुर जिला, भोपाल कार्पोरेशन, होशंगाबाद जिला, पूल बी आरसीसी भोपाल, छिन्दवाड़ा एवं रतलाम जिला, पूल सी में नरसिंहपुर, खरगौन एवं शाजापुर जिला तथा पूल डी में जबलपुर कार्पो., नरसिंहपुर ए.सी.ए, और मंदसौर जिले की टीमें शामिल है।


राष्ट्रीय, एशियन और ओलम्पिक खेलों में शामिल है बीच व्हाॅलीबाल

समुद्र किनारे बालू रेत पर खेले जाने वाला बीच व्हाॅलीबाल खेल राष्ट्रीय, एशियन और ओलम्पिक खेलों में शामिल है। मध्य प्रदेश में इस खेल को बढ़ावा देकर उत्कृष्ट खिलाड़ी तैयार करने के उद्देश्य से संचालक ख्ेाल और युवा कल्याण डाॅ. एस.एल. थाउसेन की पहल पर खेल विभाग द्वारा बीच व्हाॅलीबाल की शुरूआत की गई है। टी.टी. नगर स्टेडियम परिसर में बीच व्हाॅलीबाल कोर्ट बनाया गया है। खेल और युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी ने विगत दिनों टी.टी. नगर स्टेडियम भ्रमण के दौरान बीच व्हाॅलीबाल कोर्ट तथा यहां प्रशिक्षणरत खिलाड़ियों की प्रतिभा का अवलोकन कर इसकी सराहना की थी। उन्होंने अन्य जिलों में भी इस खेल को बढ़ावा देने की जरूरत बताई। खेल संचालक डाॅ. थाउसेन ने बताया कि भोपाल के अलावा नरसिंहपुर में भी बीच व्हाॅलीबाल का कोर्ट बनाया गया है जबकि होशंगाबाद, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, सागर, छिन्दवाड़ा आदि जिलों में बीच व्हाॅलीबाल के कोर्ट बनाए जाना प्रस्तावित हैं।