दीपिका ने स्वर्ण पदक जीतकर ओलंपिक कोटा हासिल किया


रांची। भारतीय तीरंदाज दीपिका कुमारी ने काफी समय बाद पूरे फॉर्म में आते हुए गुरुवार को बैंकॉक में महाद्वीपीय क्वॉलिफिकेशन टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीतकर ओलंपिक कोटा हासिल कर लिया। तीन दिन पूर्व दीपिका ने रिकर्व वर्ग में मिश्रित स्पर्धा में कांस्य पदक भी हासिल किया था। इसमें उनके पार्टनर उनके मंगेतर अतानु दास थे। भारत के खिलाड़ियों ने बुधवार को समाप्त हुई चैंपियनशिप में एक स्वर्ण, दो रजत और चार कांस्य हासिल किए। प्रतियोगिता में भारतीय खिलाड़ी राष्ट्रीय बैनर के बगैर खेले। इसकी वजह भारतीय तीरंदाजी एसोसिएशन पर लगा प्रतिबंध है।


शीर्ष वरीय दीपिका ने रिकर्व एकल वर्ग में शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने मलेशिया की नूर अफीसा अब्दुल को 7-2 से हराया। उसके बाद ईरान की जहरा नेमाती को 6-4 से तथा स्थानीय तीरंदाज नरीसारा खुनहिरानचाइयो को 6-2 से मात देकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर ओलंपिक कोटा हासिल किया। दीपिका ने फाइनल में वियतनाम की एनगुएट डो थि एन को अंतिम चार के मुकाबले में 6-2 से हराकर स्वर्ण पर कब्जा कर लिया। इसी स्पर्धा में अंकिता भगत ने रजत हासिल किया। भारतीय तीरंदाजी संघ पर प्रतिबंध के कारण दीपिका, अंकिता और लैशराम बोम्बायला देवी की भारतीय तिकड़ी ने तटस्थ (विश्व तीरंदाजी संघ) ध्वज के नीचे प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था। ओलंपिक कोटा : कोटा का मतलब है, ओलंपिक के लिए तय प्रदर्शन करके क्वॉलिफाई करना। दीपिका ने कोटा हासिल किया है। यानी टोक्यो में रिकर्व एकल में भारतीय खिलाड़ी होगा। यह दीपिका हो सकती हैं या कोई और भारतीय भी क्योंकि कोटा देश को मिलता है।
डेविस कप: पाकिस्तान के खिलाफ 7वीं जीत के लिए उतरेगा भारत
खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने बजरंग पुनिया को दिया खेल रत्न अवॉर्ड


दीपिका कुमारी ने कहा, ''हम अपना सर्वश्रेष्ठ करना चाहते थे। लेकिन हम शुरू में थोड़े नर्वस थे। तेज हवा भी चल रही थी। मैंने अपनी सांस पर ध्यान लगाए रखा और खुद से कहा, लगी रहो। मैं अब अच्छा महसूस कर रही हूं।''


अंकिता भकत ने 21वीं एशियाई चैंपियनशिप में गुरुवार को महिलाओं की व्यक्तिगत रिकर्व स्पर्धा में देश के लिए रजत पदक जीता। भारतीय महिला टीम ने महिलाओं की रिकर्व स्पर्धा के सेमीफाइनल में जगह बनाने के साथ टोक्यो ओलंपिक 2020 के लिए क्वॉलिफाई भी कर लिया। फाइनल में दीपिका ने हमवतन अंकिता को लगातार सेटों में 6-0 से हराया। उन्होंने 27-24, 27-26, 27-26 के स्कोर के साथ स्वर्ण पदक अपने नाम किया। सेमीफाइनल में अंकिता ने भूटान की करमा को 6-2 से हराया जबकि दीपिका ने वियतनाम की एनगुएत डो थी एन को चार सेटों में 6-2 से हराया। लाइव हिन्दुुस्तान सेे साभार


Popular posts from this blog

राघवेंद्र सिंह तोमर नेशनल स्पोर्ट्स टाइम्स के संरक्षक संपादक बने

साई भोपाल में फिट इंडिया फ्रीडम रन का अयोजन हुआ

खेल विभाग़ ने मुन्नालाल और इकबाल को सेवानिवृत्ति पर दी भावभीनी बिदाई