पिंक बॉल से पहले डे-नाइट टेस्ट के लिए ईडन गार्डन्स तैयार


कोलकाता। भारत और बांग्लादेश के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा और आखिरी मैच कोलकाता के ईडन गार्डन्स पर  कल 22 नवंबर से खेला जाना है। कोलकाता में आने वाले पांच दिन में मौसम का क्या मिजाज रहेगा, उस पर एक नजर डालते हैं। आने वाले पांच दिन में बारिश की आशंका नहीं के बराबर है। ये पहला मौका है जब भारत में डे-नाइट टेस्ट मैच खेला जा रहा है और भारत और बांग्लादेश टीम के लिए पहला मौका है, जब दोनों टीमें डे-नाइट टेस्ट खेलने मैदान पर उतरेंगी।


लाइव हिन्दुस्तान के अनुसार बारिश भले ना हो, लेकिन खिलाड़ी ठंड से परेशान रह सकते हैं। मैच कोलकाता में खेला जा रहा है, ऐसे में यहां सूर्यास्त थोड़ा पहले हो जाएगा। एक बात है, जिसको लेकर दोनों टीमें परेशान हो सकती हैं, और वो ये है कि मैच के दौरान ओस का कितना रोल रहेगा। मैच का तीसरा सेशन काफी अहम हो जाएगा, क्योंकि इस समय ओस का असर सबसे ज्यादा देखने को मिलेगा। इसके अलावा बारिश की दूर-दूर तक कोई आशंका नहीं है। शुक्रवार को हल्के बादल जरूर रहेंगे, लेकिन बारिश के आसार नहीं हैं। जबकि वेदर रिपोर्ट के मुताबिक बाकी के चार दिन बादल भी नहीं रहेंगे,  
 
पहले डे-नाइट टेस्ट के लिए तमाम तैयारियां हो चुकी हैं। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा, 'टी-ब्रेक के दौरान म्यूजिकल परफॉर्मेंस होगी और दिन के आखिर में सम्मान समारोह। दोनों टीमें, पूर्व कप्तान, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री वहां होंगी। रूना लैला, जीत गांगुली अपनी प्रस्तुति देंगे।' गांगुली से जब पूछा गया कि क्या भारत अपने अगले ऑस्ट्रेलिया दौर पर दिन-रात टेस्ट मैच खेलेगा तो उन्होंने कहा, 'हम इस पर विचार करेंगे।' ऐतिहासिक मैच की शुरुआत सैनिकों के ईडन गार्डन्स में हेलीकॉप्टर से उतरने के साथ होगी जो दोनों कप्तानों को पिंक बॉल देंगे। इसके बाद शेख हसीना और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ईडन की घंटी बजाकर मैच की शुरुआत करेंगी।


 टीब्रेक के दौरान 20 मिनट के ब्रेक में खेल हस्तियां कार्ट में बैठकर मैदान का चक्कर लगाएंगी। बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) इस मैच के दौरान ओलम्पिक गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा, टेनिस स्टार सानिया मिर्जा, विश्व बैडमिंटन चैम्पियन महिला खिलाड़ी पी.वी. सिंधु और छह बार की विश्व चैम्पियन मुक्केबाज मैरी कॉम को सम्मानित करेगा। कल सीएबी बांग्लादेश की उस पहली टेस्ट टीम को सम्मानित करेगा जिसने 2000 में पहली बार भारत का सामना किया था। इस मैच में गांगुली ने टेस्ट कप्तान के तौर पर डेब्यू किया था। गांगुली के बीसीसीआई अध्यक्ष बनने के बाद भारत के पिंक बॉल से खेलने का रास्ता साफ हुआ है। उन्होंने कहा था कि कप्तान विराट कोहली इसके लिए सिर्फ तीन सेकेंड में मान गए थे।


Popular posts from this blog

राघवेंद्र सिंह तोमर नेशनल स्पोर्ट्स टाइम्स के संरक्षक संपादक बने

साई भोपाल में फिट इंडिया फ्रीडम रन का अयोजन हुआ

खेल विभाग़ ने मुन्नालाल और इकबाल को सेवानिवृत्ति पर दी भावभीनी बिदाई