कोरोना संकट : जर्मनी में फंसा शतरंज का बादशाह

  • चेस टूर्नामेंट खेलने गए विश्वनाथन आनंद ने खुद को आइसोलेशन में रखा 


नई दिल्ली।  भारतीय ग्रैंडमास्टर और 5 बार के वर्ल्ड चेस चैम्पियन विश्वनाथन आनंद कोरोनावायरस और वीजा प्रतिबंधों के कारण जर्मनी में फंस गए हैं। उन्हें 16 मार्च को ही लौटना था। आनंद बुंदेसलीगा चेस टूर्नामेंट खेलने के लिए फरवरी में जर्मनी गए थे। बढ़ते कोरोना प्रकोप के चलते उन्होंने खुद को एक सप्ताह के लिए आइसोलेशन में रखा है। अब उनके मार्च के आखिर में चेन्नई लौटने की उम्मीद है।


मीडिया के मुताबिक, आनंद ने कहा, ‘‘यह मेरे लिए बहुत खराब अनुभव है। जीवन में पहली बार खुद को आइसोलेट करने के लिए मजबूर हो रहा हूं। मैं हर रोज सुबह उठकर बेटे अखिल और पत्नी अरुणा से वीडियो कॉल पर बात करता हूं। हम एक-दूसरे से बात करके खुश रहने की कोशिश करते हैं।’’आनंद ने कहा कि वे इंटरनेट पर दोस्तों से चैट या फिर लंबी सैर करके दिन बिता रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘कोरोनावायरस के कारण दुनियाभर में मेरे दोस्त परेशान हैं। मेरे पास सभी से बात करने का काफी समय है। मैं दिन में एक या दो बार सैर पर जाता हूं। इस दौरान रास्ते में जब भी कोई मिलता है, तो उससे कुछ मीटर की दूरी बनाकर रखता हूं।’’आनंद की पत्नी अरुणा ने कहा, ‘‘मैं बहुत बुरा अनुभव कर रहीं हूं, क्योंकि वे वहां (जर्मनी) फंसे हैं। हालांकि, हमें इसके लिए भी आभारी होना चाहिए कि उनकी स्थिति अन्य फंसे हुए लोगों से बेहतर है। हम उन्हें हर रोज याद करते हैं और उन्हें याद दिलाते हैं कि अच्छा खाना खाएं और हाथ बार-बार धोएं। उम्मीद है कि वे महीने के आखिर में लौट आएंगे।’’


157 देश में कोरोनावायरस से 6515 लोगों की मौत
कोरोनोवायरस के कारण 157 देश में 6515 लोगों की मौत हो गई। सोमवार सुबह तक कुल 1 लाख 69 हजार 515 मामले सामने आए हैं। वहीं, जर्मनी में अब तक 5813 संक्रमित पाए गए हैं। इनमें 11 की मौत हो गई। भारत में मौत का आंकड़ा 2 है। यहां 110 लोग कोरोनावायरस टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं।


 


दैनिक भास्कर से साभार