ऑस्ट्रेलिया में मिली जीत के लिए रवि शास्त्री को भी श्रेय दिया जाना चाहिएः इंजमाम उल हक
नई दिल्ली | ऑस्ट्रेलिया के सरजर्मी पर मिली ऐतिहासिक जीत के बाद टीम इंडिया के कई खिलाड़ियों की जमकर चर्चा हो रही है। मोहम्मद सिराज, ऋषभ पंत लेकर वॉशिंटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर को इस जीत का हीरो बताया जा रहा है। एडिलेड टेस्ट मैच गंवाने के बाद अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में भारतीय टीम ने जबर्दस्त वापसी करते हुए चार मैचों की टेस्ट सीरीज को 2-1 से अपने नाम किया और लगातार दूसरी बार बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी पर अपना कब्जा जमाया। इसी बीच, पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक का मानना है कि ऑस्ट्रेलिया में मिली जीत में हेड कोच रवि शस्त्री का भी बड़ा योगदान रहा है और उनको भी श्रेय दिया जाना चाहिए। लाइव हिन्दुस्तान के अनुसार अपने यूट्यूब चैनल में बात करते हुए इंजमाम उल हक ने कहा, 'एक फैक्टर जिसका लोग जिक्र नहीं कर रहे हैं, वह हैं रवि शास्त्री। उन्होंने टीम डायरेक्टर के तौर पर शुरू किया था और हेड कोच बनकर वापसी की। उनके पास जो अनुभव और गेम की समझ है मुझे लगता है उसने टीम इंडिया और खिलाड़ियों की काफी मदद की। हर किसी ने उनको खेलते हुए देखा है, वह भारत के लिए एक बड़े खिलाड़ी थे, एक शानदार ऑलराउंडर।' ब्रिसबेन टेस्ट मैच में पांच विकेट चटकाने वाले मोहम्मद सिराज ने भारत पहुंचने के बाद खुलासा किया था कि एडिलेड टेस्ट में मिली हार के बाद हेड कोच रवि शास्त्री ने टीम को काफी मोटिवेट किया था। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान ने आगे कहा, 'मुझे याद है कि जब वह कमेंट्री करते थे, जिस तरह की चीजें वह बोलते थे और उनके पास जो टैलेंट को खोजने वाली आंखें हैं, उससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि उनके पास गेम की कितनी जानकारी है। मुझे लगता है कि उन्होंने टीम इंडिया की काफी मदद की है।' इंजमाम ने कहा कि एडिलेड में मिली हार के बाद शास्त्री ने टीम को एकजुट रखा और टीम ने गिरने की बजाए जबर्दस्त वापसी की। ब्रिसबेन में मिली जीत के बाद ड्रेसिंग रूम के अंदर रवि शास्त्री द्वारा दी गई स्पीच काफी वायरल हुई थी।