वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के खिलाड़ियों ने जीते तीन स्वर्ण और दो रजत पदक
आठवीं राष्ट्रीय कैनो स्लालॉम चैम्पियनशिप में म प्र कयाकिंग कैनोइंग अकादमी के खिलाड़ियों की स्वर्णिम सफलता भोपाल। खरगोन जिले के महेश्वर स्थित सहस्त्रधारा पर 5 से 7 जनवरी, 2021 तक आयोजित आठवीं राष्ट्रीय कैनो स्लालॉम चैंपियनशिप में मध्य प्रदेश वाटर स्पोर्ट्स कयाकिंग कैनोइंग अकादमी के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए तीन स्वर्ण और दो रजत सहित कुल 5 पदक अर्जित किए हैं। एशियन चैंपियनशिप एवं ओलंपिक क्वालिफाय के सिलेक्शन ट्रायल हेतु प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है। प्रतियोगिता के पहले दिन मध्य प्रदेश वाटर स्पोर्ट्स कयाकिंग कैनोइंग अकादमी के खिलाड़ी राजा केवट ने स्वर्ण पदक अर्जित किया। राजा केवट ने यह पदक पुरुष वर्ग की केनो-1 स्पर्धा में शानदार प्रदर्शन करते हुए जीता। उन्होंने 84.84 सेकंड का समय लेकर रेस पूरी कर प्रथम स्थान हासिल किया। प्रतियोगिता के दूसरे दिन आज के-1 मेन इवेंट में अकादमी के खिलाड़ी धीरज कीर ने 81.81 सेकंड का समय लेकर रेस जीती और स्वर्ण पदक प्राप्त किया। जबकि सी-1 वूमेन इवेंट में अकादमी की खिलाड़ी जहान्वी श्रीवास्तव ने 123.82 सेकंड का समय लेकर स्वर्ण पदक प्राप्त किया। जहान्वी श्रीवास्तव ने प्रतियोगिता की के-1 वूमेन स्पर्धा में 103.97 सेकंड का समय लेकर एक रजत पदक अर्जित किया। अकादमी के खिलाड़ी अमित विश्वकर्मा ने बालक वर्ग की के-1 स्पर्धा 94.66 सेकंड का समय लेकर पूरी की और एक रजत पदक प्राप्त किया। चैंपियनशिप में देश के 70 खिलाड़ी भागीदारी कर रहे हैं जिनमें अकादमी के 14 खिलाड़ी शामिल हैं। अकादमी के खिलाड़ियों द्वारा किए गए शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी है। उन्होंने खिलाड़ियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि तीन दिवसीय इस राष्ट्रीय कैनो स्लालाॅम प्रतियोगिता में हमारे खिलाड़ी और भी अधिक पदक जीतकर मध्य प्रदेश को गौरवान्वित करेंगे। संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी की पहल पर महेश्वर में 11 मार्च, 2016 को देश के पहले प्राकृतिक स्लालाॅम कोर्स का शुभारंभ हुआ। जिसका प्रदेश के खिलाडियों को लाभ मिल रहा है। वाटर स्पोर्ट्स कयाकिंग कैनोइंग अकादमी के प्रशिक्षक श्री देवेंद्र गुप्ता, श्री अंकुर शर्मा और श्री प्रिंस परमार के मार्गदर्शन में खिलाड़ी प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं।