72वें स्ट्रांड्जा मेमोरियल टूर्नामेंटः मुक्केबाज दीपक कुमार ने शाखोबिदिन जोइरोव को हराकर फ़ाइनल में पहुंचे
नई दिल्ली | भारतीय मुक्केबाज दीपक कुमार (52 किलोग्राम) ने उलटफेर करते हुए रियो ओलंपिक चैंपियन उज्बेकिस्तान के शाखोबिदिन जोइरोव को शनिवार को 4-1 से हराकर बुल्गारिया के सोफिया में चल रहे 72वें स्ट्रांड्जा मेमोरियल टूर्नामेंट में अपने वर्ग के फ़ाइनल में प्रवेश कर लिया। दीपक ने इससे पहले शुक्रवार को स्थानीय मुक्केबाज डारिसलाव वासीलेव के खिलाफ 5-0 से बड़ी जीत हासिल करते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश किया था। एशियाई चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता दीपक पूरे मैच के दौरान नियंत्रण में दिखे। दीपक रिंग के अंदर अपने पंचों में तेज थे और उनकी तेज चहलकदमी ने बुल्गारिया के उनके प्रतिद्वंद्वी को स्कोर करने का कोई मौका नहीं दिया। इस जीत के साथ दीपक नवीन बूरा (69 किलोग्राम) के बाद दूसरे भारतीय बन गए थे जिन्होंने टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनाई और देश के लिए दूसरा पदक पक्का कर लिया है। नवीन बूरा का सेमीफाइनल में सामना एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता उज्बेकिस्तान के बोबो उस्मोन बातुरोव से होगा। इस बीच भारतीय महिला मुक्केबाज ज्योति गुलिया (51 किलोग्राम) और भाग्यबाती कचारी (75 किलोग्राम) अपने क्वार्टर फाइनल मुकाबले 5-0 से हार गई हैं। गुलिया रोमानियाई मुक्केबाज लैक्रोमियोरा पेरिजोक से पराजित हुईं, कचारी को विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता अमेरिका की नाओमी ग्राहम से हार मिली। पुरुष मुक्केबाज श्रेणी में मंजीत सिंह आर्मेनिया के गुरगेन होवनहिस्यान के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में मुकाबला हार गए। लाइव हिन्दुस्तान से साभार