अंकिता रैना ने पहली बार डब्ल्यूटीए खिताब जीता

मेलबर्न | भारत की अंकिता रैना ने शुक्रवार को अपनी रूसी जोड़ीदार कैमिला रखिमोवा के साथ मिलकर फिलिप आइलैंड ट्राफी टेनिस टूर्नामेंट में महिला युगल का खिताब जीता जो उनका पहला डब्ल्यूटीए खिताब है। इस जीत से यह 28 वर्षीय भारतीय खिलाड़ी महिला युगल रैंकिंग में अपने करियर में पहली बार शीर्ष 100 में भी शामिल हो जाएगी। अंकिता और कैमिला की जोड़ी ने फाइनल में अन्ना बिलिनकोवा और अनस्तेसिया पोटापोवा की रूसी जोड़ी को 2-6, 6-4, 10-7 से हराया। भारतीय खिलाड़ी ने इस जीत से अपनी रूसी जोड़ीदार के साथ 8000 डालर बांटे और उन्हें 280 रैंकिंग अंक मिले। इससे वह अगले सप्ताह जारी होने वाली डब्ल्यूटीए रैंकिंग में 94वें स्थान पर पहुंच जाएगी। अंकिता अभी 115वें स्थान पर है। वह छह बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन सानिया मिर्जा के बाद शीर्ष 100 में जगह बनाने वाली दूसरी भारतीय महिला खिलाड़ी बनेंगी। अंकिता ने शुक्रवार की जीत से पहले आईटीएफ युगल खिताब और डब्ल्यूटीए सीरीज जीती थी। पिछले दो सप्ताह अंकिता के लिए यादगार रहे। उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई ओपन के महिला युगल में भाग लेकर ग्रैंडस्लैम में डेब्यू किया और डब्ल्यूटीए टूर्नामेंट के एकल में मुख्य ड्राॅ का एक दौर का मैच जीता। अंकिता ने कहा, ''यह सप्ताह शानदार रहा। कैमिला और मैं पहली बार साथ में खेल रहे थे। हमने ड्राॅ से केवल 20 मिनट पहले हस्ताक्षर किए थे क्योंकि प्रवेश सूची को लेकर काफी भ्रम बना हुआ था। कैमिला आक्रामक होकर खेलती और उनके स्ट्रोक शानदार हैं। मैंने उसे केवल आक्रामक बने रहने के लिए कहा और उसने ऐसा किया।" उन्होंने कहा, ''पहला डब्ल्यूटीए खिताब और युगल रैंकिंग में टाॅप 100 में जगह मिलना शानदार है। मैं अब एकल के टाॅप 100 में जगह बनाने पर ध्यान दूंगी।" अंकिता अगले सप्ताह एडीलेड इंटरनेशनल में खेलेगी। लाइव हिन्दुस्तान से साभार

Popular posts from this blog

राघवेंद्र सिंह तोमर नेशनल स्पोर्ट्स टाइम्स के संरक्षक संपादक बने

साई भोपाल में फिट इंडिया फ्रीडम रन का अयोजन हुआ

खेल विभाग़ ने मुन्नालाल और इकबाल को सेवानिवृत्ति पर दी भावभीनी बिदाई