IND vs ENG: तीसरे टेस्ट में भारत ने इंग्लैंड को 10 विकेट से हराया
नई दिल्ली |भारत और इंग्लैंड के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया ने इंग्लैंड को 10 विकेट से हराया। यह दूसरा मौका रहा जब भारतीय टीम ने टेस्ट मैच को महज दो दिन के अंदर जीता। अक्षर पटेल और रवचिंद्रन अश्विन की शानदार गेंदबाजी के आगे इंग्लिश बल्लेबाज बेबस नजर आए और दूसरी पारी में पूरी टीम महज 81 रनों पर ऑलआउट हुई। जीत के लिए मिले 49 रनों के लक्ष्य को टीम इंडिया ने बिना कोई विकेट गंवाए सिर्फ 7.4 ओवर में हासिल कर लिया। इसी जीत के साथ ही भारत ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली है। आइए एक नजर डालते हैं इस मुकाबले में बने 10 बड़े रिकॉर्ड्स पर। 1935 के बाद टेस्ट मैच में फेंकी गई सबसे कम गेंद भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में सिर्फ 842 गेंदें फेंकी गई, जो कि साल 1935 के बाद एक टेस्ट में डाली गई सबसे कम गेंदें भी रही। साल 1935 में वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच खेले गए मैच में महज 672 गेंदें फेंकी गई थी। ओवरऑल यह टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का सातवां सबसे छोटा मैच रहा। भारत में यह सबसे छोटा टेस्ट मैच रहा, इसमें पहले कोलकाता पिंक बॉल टेस्ट में 968 गेंदें डाली गईं थीं। 22वीं बार दो दिन में खत्म हुआ टेस्ट मैच टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में यह 22वां मौका रहा जब किसी टेस्ट मैच का नतीजा महज दो दिन के अंदर निकला। भारत ने दूसरी बार किसी टेस्ट मैच को दो दिन के भीतर जीता। इससे पहले साल 2018 में अफगानिस्तान के खिलाफ टीम ने जीत हासिल की थी, उस मुकाबला का नतीजा भी दो दिन में आ गया था। पूरे टेस्ट मैच में बने महज 387 रन भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए डे-नाइट टेस्ट मैच में चार पारियों को मिलाकर कुल 387 रन बने, जो कि भारत की धरती पर पांचवां सबसे कम स्कोर भी रहा। इंग्लैंड पहली इनिंग में जहां 112 तो भारत 145 पर ऑलआउट हुआ। दूसरी पारी में इंग्लैंड ने महज 81 रन बनाए, जबकि टीम इंडिया ने दूसरी इनिंग में 49 रन बनाकर इस मैच को अपने नाम किया। कोहली ने धोनी को छोड़ा पीछे डे-नाइट टेस्ट मैच में जीत दर्ज करने के साथ ही विराट कोहली भारत की धरती पर सबसे ज्यादा टेस्ट जीत दर्ज करने वाले कप्तान बने। कोहली की यह 29वें टेस्ट मैच में 22वीं जीत रही। विराट ने धोनी के 21 जीत के रिकॉर्ड को तोड़ा। धोनी की अगुवाई में टीम इंडिया ने 30 मैचों में से 21 में जीत हासिल की थी। अक्षर पटेल ने फेंका डे-नाइट टेस्ट का सबसे सफल स्पेल अक्षर पटेल ने डे-नाइट टेस्ट मैच में पिंक बॉल से गेंदबाजी करते हुए अबतक का सबसे शानदार स्पेल फेंका। अक्षर पिंक बॉल से एक मैच के अंदर 10 विकेट चटकाने वाले पहले गेंदबाज बने। अपने घरेलू मैदान पर खेल रहे स्पिन गेंदबाज ने पहली पारी में छह और दूसरी में पांच विकेट झटके। डे-नाइट टेस्ट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बने अक्षर पटेल अक्षर पटेल डे-नाइट टेस्ट मैच में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। उन्होंने अपने करियर के पहले डे-नाइट मुकाबले में 11 विकेट चटकाए। अक्षर ने पैट कमिंस को पीछे छोड़ा, जिनके नाम 10 विकेट है। अक्षर को उनकी शानदार गेंदाबजी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। भारत के खिलाफ इंग्लैंड का न्यूनतम स्कोर दूसरी पारी में महज 81 रनों पर ऑलआउट होने के साथ ही इंग्लैंड ने अपने नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज किया। भारत के खिलाफ यह इंग्लैंड का अबतक का सबसे कम स्कोर रहा। इससे पहले, साल 1971 में इंग्लैंड की टीम भारत के खिलाफ 101 रनों पर ऑलआउट हुई थी। अश्विन ने पूरे किए 400 टेस्ट विकेट रविचंद्रन अश्विन ने दूसरी पारी में जोफ्रा आर्चर को आउट करने के साथ ही टेस्ट क्रिकेट में अपने 400 विकेट भी पूरे किए। अश्विन भारत की तरफ से ऐसा करने वाले चौथे गेंदबाज बने। अश्विन से पहले हरभजन सिंह, अनिल कुंबले और कपिल देव इस मुकाम तक पहुंच सके हैं। बेन स्टोक्स बने अश्विन के 11वीं बार शिकार टेस्ट मैच की दूसरी पारी में रविचंद्रन अश्विन ने बेन स्टोक्स को 25 रनों के स्कोर पर एलबीडब्ल्यू आउट करके पवेलियन की राह दिखाई। अश्विन ने स्टोक्स का टेस्ट क्रिकेट में 11वीं बार शिकार किया। स्टोक्स अश्विन के करियर में उनकी गेंद पर सबसे ज्यादा बार आउट होने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। स्टोक्स के बाद इस लिस्ट में डेविड वॉर्नर का नाम शामिल है। ईशांत ने जड़ा इंटरनेशनल करियर का पहला छक्का अपना 100वां टेस्ट मैच खेलने उतरे ईशांत शर्मा गेंद से जरूर कुछ खास नहीं कर सके, लेकिन वह बल्ले के साथ कुछ अच्छे शॉट्स लगाते हुए नजर आए। पहली इनिंग में अपनी 10 रनों की नाबाद पारी के दौरान ईशांत ने अपने इंटरनेशनल करियर का पहला सिक्स लगाया। ईशांत द्वारा लगाया यह छक्का डे-नाइट टेस्ट का पहला सिक्स भी रहा। लाइव हिन्दुस्तान से आभार