इंटरनेशनल एथलीट सुप्रिया जाटव ने दी सेल्फ डिफेंस की टिप्स
भोपाल। मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी के टी टॉक्स सेषन टू में इंटरनेशनल कराटे एथलीट सुप्रिया जाटव ने स्टूडेंट्स को सेल्फ डिफेंस के टिप्स दिए। कार्यक्रम का आयोजन मानसरोवर डेंटल कॉलेज कैम्पस में किया गया जिसमें बड़ी संख्या में मौजूद विद्यार्थियों ने सुप्रिया से सेल्फ डिफेंस से जुड़े कई मुद्दों पर खुलकर चर्चा की। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि इंटरनेशनल कराटे प्लेयर सुप्रिया जाटव, मानसरोवर ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स के प्रो-चांसलर इंजी. गौरव तिवारी, प्रो-वाइस चांसलर कर्नल एच.आर. रूहील ने दीप प्रज्जवलित कर किया। जिसके बाद एग्रीकल्चर विभाग की साक्षी भारद्वाज ने सुप्रिया के साथ टी-टॉक्स में जिंदगी के कई पहलुओं से जुड़े सवाल पूछे। जिसके जवाब में सुप्रिया ने कहा कि वो 6 साल की थी जबसे कराटे कर रही हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सफलता के लिए उन्होंने हमेशा छोटा टार्गेट सेट किए और बड़ा खुद ब खुद अचीव करती गईं। उन्होंने दंगल फिल्म का उदाहरण देते हुए कहा कि उनकी कहानी भी कुछ ऐसी ही थी कि बचपन में उन्हें खिलौने देने के बजाए कड़ी मेहनत करवाई गई। उन्होंने यह भी कहा कि जब चोट लगी तो मां ने कहा कि बेटा ये मैडल से पहले वाला मैडल है। मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी के प्रा-चांसलर गौरव तिवारी ने कहा कि एक खिलाड़ी अपनी जीवन में कड़ी मेहनत करके आगे बढ़ता है और हर संस्थान को ये प्रयास करना चाहिए कि वो खिलाड़ियो को ज्यादा से ज्यादा प्रोत्साहित कर सकें और सफलता के सफर में उनकी हर संभव मदद कर सकें। प्रो-वाइस चांसलर कर्नल एच.आर. रूहील ने कहा कि एक स्वस्थ्य तन ही स्वस्थ्य मन देता है और खेल एक ऐसी विधा है जो तन ही नहीं मन को भी स्वस्थ्य रखने में हमारी मदद करता है। इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से एग्रीकल्चर विभाग के एच.ओ.डी. डॉ. सतीष शर्मा, मानसरोवर आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. अनुराग सिंह राजपूत, डीन डॉ. मनीषा राठी, सियाराम के प्राचार्य डॉ. भरत चौरागड़े, डेण्टल कॉलेज के डीन डॉ. गुरूदत्त नायक और सभी महाविद्यालयों के शिक्षक एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।