IND vs ENG टी-20 : इंग्लैंड के खिलाफ चौथा मैच 'करो या मरो' जैसा होगा
नई दिल्ली। इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टी-20 सीरीज में 1-2 से पिछड़ी भारतीय टीम के लिए चौथा मैच 'करो या मरो' जैसा होगा। टीम यह अच्छे से जानती है कि एक और हार से उसे सीरीज गंवानी पड़ेगी। इस मैच में भारतीय टीम चाहेगी कि अगर वह टॉस गंवाती है तो यह मैच के नतीजे में निर्णायक साबित नहीं हो। मौजूदा सीरीज में अब तक टॉस जीतकर लक्ष्य का पीछा करने वाली टीमों ने आसान जीत दर्ज की हैं। भारतीय कप्तान विराट कोहली हालांकि लगातार अच्छे प्रदर्शन की जरूरत पर जोर देते रहे हैं।लाइव हिन्दुस्तान के अनुसार भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए जो दो मैच गंवाए हैं उसमें टीम को पावरप्ले में जूझना पड़ा, जिसके कारण टीम के फाइनल स्कोर पर असर पड़ा जबकि दोनों ही मैचों में एक बल्लेबाज (क्रमश: श्रेयस अय्यर और विराट कोहली) ने शानदार प्रदर्शन किया। लोकेश राहुल की खराब फॉर्म का खामियाजा भी भारत को भुगतना पड़ रहा है लेकिन कोहली स्पष्ट कर चुके हैं कि कर्नाटक का यह बल्लेबाज और रोहित शर्मा सलामी जोड़ी के रूप में उनकी प्राथमिकता हैं। तीसरे मैच के बाद कोहली के बयान पर गौर करें तो हार्दिक पांड्या और वॉशिंगटन सुंदर के साथ टीम में एक अन्य ऑलराउंडर को जगह मिल सकती है और वह डेब्यू का इंतजार कर रहे राहुल तेवतिया और अक्षर पटेल में से कोई एक हो सकता है। इन दोनों में से किसी एक के आने से युजवेंद्र चहल को बाहर बैठना पड़ सकता है, क्योंकि भारत ने जब बाद में गेंदबाजी की तो टीम के नंबर एक स्पिनर युजवेंद्र चहल ने दोनों मुकाबलों में रन लुटाए। कोहली ने तीसरे मैच में 77 रन की धमाकेदार पारी खेलकर भारत को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया लेकिन मेजबान टीम के गेंदबाज विरोधी बल्लेबाजों को परेशान करने में नाकाम रहे और जोस बटलर ने तूफानी पारी खेलकर टीम की जीत सुनिश्चित की। भारत के ऑफ स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर ने सबसे अधिक प्रभावित किया है जिन्होंने 6.95 प्रति ओवर की प्रभावी इकोनॉमी रेट के साथ चार विकेट चटकाए हैं। भारत की तरह इंग्लैंड भी हर तरह के हालात में जीत दर्ज करना चाहता है और टीम पिछले मैच में जीत से उत्साहित होगी। बटलर की फॉर्म में वापसी भारत के लिए चिंता का विषय होगी क्योंकि जिस दिन यह बल्लेबाज लय में होता है तो किसी भी गेंदबाजी आक्रमण को ध्वस्त करने की क्षमता रखता है। भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, ईशान किशन, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत, हार्दिक पांड्या, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, वॉशिंगटन सुंदर, शार्दुल ठाकुर।