India vs England: भारत को आठ विकेट से हराकर इंग्लैंड ने सीरीज में 2-1 की बढ़त बनाई
नई दिल्ली | भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टी20 इंटरनेशनल सीरीज का तीसरा मैच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला गया। इंग्लैंड ने तीसरे टी20 मैच में भारत को आठ विकेट से हराकर सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली है। भारत ने टॉस गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 156 रन बनाए। इंग्लैंड ने इस लक्ष्य को 18.2 ओवर में 2 विकेट खोकर हासिल कर लिया। इंग्लैंड की तरफ से जोस बटलर ने 83 रन की ताबड़तोड़ पारी और नाबाद रहे। बटलर के अलावा इंग्लैंड की तरफ से जॉनी बेयरस्टो ने नाबाद 40 रन बनाए। सीरीज का चौथा मुकाबला 18 मार्च को खेला जाएगा। बटलर ने खेली तूफानी पारी जोस बटलर और जेसन रॉय इंग्लैंड की तरफ से एक बार फिर पारी की शुरुआत करने आए। इन दोनों के बीच पहले विकेट के लिए 23 रन की पार्टनरशिप हुई। युजवेंद्र चहल ने भारत को पहली सफलता दिलाई। 3.3 ओवर में युजवेंद्र चहल की बॉल पर जेसन रॉय का कैच रोहित शर्मा ने लपका। रॉय 9 रन बनाकर आउट हुए। इसके बाद डेविड मलान मैदान में आए। वो 18 रन बनाकर आउट हुए। नौवें ओवर की चौथी गेंद पर सुंदर वांशिगट ने पंत के हाथों स्टंप कराया। जिस समय मलान आउट हुए, उस समय टीम का स्कोर 81 रन था। इसके बाद जॉनी बेयरस्टो मैदान में उतरे। बेयरस्टो और बटलर ने इसके बाद मैदान में मोर्चा संभाला। 11.5 ओवर में इन दोनों ने मिलकर टीम का स्कोर 100 के पार पहुंचाया। आखिर के 7 ओवर में इंग्लैंड को जीतने के लिए पचास रन चाहिए थे। 15 ओवर के बाद इंग्लैंड का स्कोर 127 रन पर दो विकेट था। बेयरेस्टों ने इंग्लैंड की पारी के 18.2 ओवर में शार्दुल ठाकुर की बॉल पर चौका मारकर टीम को जीत दिलाई। बटलर ने 83 रन नाबाद बनाने के साथ ही टी20 में अपना सर्वोच्च स्कोर बनाया। इससे पहले उनका सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर 81 रन नाबाद था, जो उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था। बटलर इंग्लैंड की तरफ से भारत के खिलाफ टी20 में एक मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं। उन्होंने इंग्लैंड के कप्तान मोर्गन का रिकॉर्ड तोड़ा। उन्होंने भारत के खिलाफ साल 2014 में 71 रन बनाए थे। बटलर ने 52 गेंदों में खेली गई 83 रन की पारी में 5 चौके और 6 छक्के लगाए। वहीं जॉनी बेयरस्टो ने नाबाद 40 रन की पारी में 5 चौके लगाए। उन्होंने 28 बॉल में ये रन बनाए। इन दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिए 77 रन की नाबाद पार्टनरशिप हुई। इससे पहले इंग्लैंड के कप्तान ऑयन मॉर्गन ने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी करने को कहा। जोफ्रा आर्चर के दूसरे ओवर की पहली ही गेंद पर ओपनर रोहित शर्मा को जीवनदान मिला। रोहित का कैच आर्चर ने अपनी ही बॉल पर छोड़ा। केएल राहुल सीरीज के तीसरे मैच में लगातार फ्लॉप हुए। वो लगातार दूसरी बार बिना खाता खोले लौटे। मार्क वुड ने अपने पहले ओवर में मैच के 2.3 ओवर में केएल राहुल को बोल्ड किया। केएल राहुल का जब विकेट गिरा तब टीम का स्कोर केवल 7 रन था। पिछले दो मैचों से बाहर रोहित शर्मा भी 15 रन बनाकर सस्ते में आउट हो गए। भारत की पारी के चौथे ओवर की चौथी गेंद पर मॉर्क वुड ने उन्हें अपना शिकार बनाया। अपने डेब्यू में 56 रन बनाने वाले ईशान किशन मंगलवार को कुछ कमाल नहीं कर पाए और 4 रन बनाकर क्रिस जोर्डन का शिकार बने। उनके आउट होते समय टीम का स्कोर 24 रन पर तीन विकेट था। इसके बाद पंत आए और कोहली के साथ मिलकर उन्होंने टीम का पचास रन के पास पहुंचाया। भारत का स्कोर जब 11.1 ओवर में 64 रन था उसी समय विराट कोहली की गलत कॉल की वजह से पंत रन आउट हुए। सैम करन ने उन्हें रन आउट किया। पंत 20 गेंदों में 25 रन बनाकर आउट हुए। श्रेयस अय्यर ने करन पर चौके से खाता खोला लेकिन वुड की गेंद पर बाउंड्री लगाने के चक्कर में डेविड मलान को कैच दे बैठे जिससे 15वें ओवर में टीम का स्कोर पांच विकेट पर 86 रन हो गया। उन्होंने 9 रन बनाए। विराट कोहली ने एक छोर संभाले रखा कोहली ने और 16 वें ओवर में 37 गेंद में 27वां अर्धशतक पूरा किया। 17 वें ओवर में वुड को निशाना बनाते हुए उन पर लगातार दो छक्के और एक चौका जड़ा। उन्होंने अपनी पारी में 8 चौके और चार छक्के मारे। विराट कोहली और हार्दिक पांड्या के बीच छठे विकेट के लिए 70 रन की पार्टनरशिप हुई, जो भारत की तरफ से नया रिकॉर्ड है। इससे पहले ये रिकॉर्ड महेंद्र सिंह धोनी और यूसुफ पठान के बीच थी। इन दोनों ने साल 2009 में इंग्लैंड के लॉर्ड्स में इंग्लैंड के खिलाफ छठे विकेट के लिए 63 रनों की पार्टनरशिप की थी। हार्दिक पंड्या ने 15 गेंदों पर 17 रन बनाए। विराट कोहली के नाबाद 77 रनों की बदौलत टीम इंडिया ने 20 ओवर में 156 रन बनाए और इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 157 रन का फाइटिंग स्कोर रखा। इंग्लैंड की तरफ से मार्क वुड ने 3 और क्रिस जॉर्डन ने दो विकेट लिए। लाइव हिन्दुस्तान से साभार