इंडिया vs इंग्लैंड चौथा टेस्ट कल से:टीम इंडिया के पास ICC टेस्ट चैम्पियनशिप की सबसे सफल टीम बनने का मौका
अहमदाबाद। भारत और इंग्लैंड के बीच अहमदाबाद में कल 4 मार्च से चौथे और आखिरी टेस्ट की शुरुआत होगी। 4 टेस्ट की सीरीज में भारत फिलहाल 2-1 से आगे है। आखिरी टेस्ट टीम इंडिया के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण रहने वाला है। भारत अगर यह टेस्ट जीतता है या ड्रॉ करा लेता है, तो जून में होने वाले ICC वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंच जाएगा। अगर टीम इंडिया हारती है, तो सीरीज के साथ-साथ WTC फाइनल में अपनी जगह भी गंवा देगी। ऐसे में ऑस्ट्रेलियाई टीम बेहतर पॉइंट पर्सेंट के साथ फाइनल के लिए क्वालिफाई कर लेगी। इसके साथ ही टीम इंडिया के पास ICC वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप में सबसे सफल टीम बनने का भी मौका है। भारत ने अब तक 6 टेस्ट सीरीज में 16 में से कुल 11 मैच जीते हैं और 4 हारे हैं, वहीं इंग्लैंड ने 20 में से 11 जीते और 6 हारे हैं। धोनी के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे कोहली इस टेस्ट में विराट कोहली भी कई रिकॉर्ड अपने नाम करना चाहेंगे। चौथे टेस्ट में उतरने के साथ ही विराट महेंद्र सिंह धोनी के सबसे ज्यादा मैचों में कप्तानी के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे। बतौर कप्तान विराट का यह 60वां टेस्ट होगा। धोनी ने भी इतने ही टेस्ट में टीम इंडिया की कप्तानी की है। इसमें से विराट ने 35 टेस्ट में टीम इंडिया को जीत दिलाई है। अगला टेस्ट जीतते हैं, तो वे वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान क्लाइव लॉयड के सबसे ज्यादा टेस्ट जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे। वे इस मामले में लॉयड के साथ चौथे नंबर पर आ जाएंगे। कोहली तोड़ देंगे पोंटिंग का रिकॉर्ड कोहली अगर चौथे टेस्ट में सेंचुरी लगाते हैं, तो वे इंटरनेशनल क्रिकेट में पोंटिंग के बतौर कप्तान सबसे ज्यादा सेंचुरी लगाने के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे। यह एक ऐसा रिकॉर्ड है, जिसका इंतजार फैंस पिछले 15 महीने से कर रहे हैं। कोहली ने पिछला शतक नवंबर, 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ लगाया था। पोंटिंग-कोहली के नाम 41-41 सेंचुरी हैं। अश्विन और अक्षर संभालेंगे स्पिन की कमान भारत इस टेस्ट में भी पिछले मैच की तरह 2 तेज गेंदबाज और 3 स्पिनर के कॉम्बिनेशन के साथ उतर सकता है। स्पिनर की कमान एक बार फिर रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल संभालेंगे। वहीं, तीसरे स्पिनर के रूप में वॉशिंगटन सुंदर की जगह कुलदीप को शामिल किया जा सकता है। बुमराह की गैरमौजूदगी में सिराज को मिल सकता है मौका तेज गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह की गैरमौजूदगी में मोहम्मद सिराज को मौका मिल सकता है। यह देखने वाली बात होगी कि ओपनर के तौर पर कुछ खास नहीं कर सके शुभमन गिल को मौका दिया जाता है या नहीं। उनकी जगह मयंक अग्रवाल को टीम में शामिल किया जा सकता है। भारत के WTC की उम्मीदों पर पानी फेरना चाहेगा इंग्लैंड वहीं, इंग्लैंड की टीम सम्मान बचाने के लिए उतरेगी। पहले टेस्ट में जीत के बाद टीम की बैटिंग बेहद लचर रही है। चेन्नई में दूसरे और मोटेरा में तीसरे टेस्ट में स्पिनिंग ट्रैक पर इंग्लिश टीम के बल्लेबाजों ने अश्विन और अक्षर के आगे घुटने टेक दिए। मोटेरा में जैक क्राउली के अलावा कोई भी बल्लेबाज अच्छा नहीं खेल सका। ऐसे में टीम एकजुट होकर चौथे टेस्ट में भारत के WTC के सफर पर पानी फेरना चाहेगी। 2 स्पेशलिस्ट स्पिनर के साथ टेस्ट में उतर सकता है इंग्लैंड इंग्लैंड टीम पिछले टेस्ट की गलती इस टेस्ट में नहीं दोहराना चाहेगी। पिछले टेस्ट में इंग्लैंड सिर्फ 1 स्पिनर के साथ उतरा था। कप्तान जो रूट को खुद बॉलिंग करनी पड़ी थी और उन्होंने पहली पारी में 5 विकेट लिए थे। इस टेस्ट में इंग्लैंड डॉम बेस को प्लेइंग-11 में शामिल करना चाहेगा। बेस ने चेन्नई में पहले टेस्ट में अच्छी बॉलिंग की थी। वहीं, स्टुअर्ट ब्रॉड को बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है। भारत की संभावित प्लेइंग-11 शुभमन गिल/मयंक अग्रवाल, रोहित शर्मा, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, अक्षर पटेल, वॉशिंगटन सुंदर/कुलदीप यादव, इशांत शर्मा, मोहम्मद सिराज इंग्लैंड की संभावित प्लेइंग-11 डॉमनिक सिबली, जैक क्राउली, जॉनी बेयरस्टो, जो रूट (कप्तान), ऑली पोप, बेन स्टोक्स, बेन फोक्स (विकेटकीपर), डॉम बेस, जैक लीच, जोफ्रा आर्चर, जेम्स एंडरसन दैनिक भास्कर से साभार