RCB vs RR : बेंगलुरु ने राजस्थान को 10 विकेट से हराया, पडिक्कल का शतक
नई दिल्ली। राॅयल चैलेंजर्स बेंगलुरु और राजस्थान राॅयल्स के बीच इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 का 16वां मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जा रहा है। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी के लिए आई राजस्थान की टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में 177 रन बनाए और बेंगलुरु के सामने 178 रन का लक्ष्य रखा। जिसे बेंगलुरु की टीम ने देवदत्त पडिक्कल के शतक और विराट कोहली की अर्धशतकीय पारी की मदद से मैच को 10 विकेट से जीत लिया। पहले बल्लेबाजी के लिए राजस्थान की टीम की शुरूआत ठीक नहीं रही और तीसरे ओवर में जोस बटलर 8 रन बनाकर आउट हो गए। बटलर को सिराज ने अपना शिकार बनाया। राजस्थान की टीम को दूसरा झटका काईल जैमीसन ने दिया। जैमीसन ने मनन वोहरा को 7 रन पर आउट किया। इसके बाद राजस्थान की टीम को तीसरा और बड़ा झटका डेविड मिलर के रूप में लगा। मिलर को सिराज ने शून्य पर आउट कर अपना दूसरा शिकार बनाया। कप्तान संजू सैमसन 21 रन बनाकर वाशिंगटन सुंदर की गेंद पर मैक्सवेल को कैच थमा बैठे। सैमसन ने अपनी पारी के दौरान 2 चौके और एक छक्का लगाया। चार विकेट जल्दी खोने के बाद राजस्थान की पारी को शिवम दुबे और रियान पराग ने संभाला। दोनों के बीच अर्धशतकीय साझेदारी हुई। इस साझेदारी को हर्षल पटेल ने तोड़ा। हर्षल ने रियान पराग को आउट कर टीम को पांचवी सफलता दिलाई। रिया पराग ने 16 गेंदों पर 25 रन की पारी खेली जिसमें उन्होंने चार चौके लगाए। राजस्थान की टीम को छठा विकेट शिवम दुबे के रूप में लगा। शिवम दुबे ने बेंगलुरु के खिलाफ 32 गेंदों पर 46 रन की पारी खेली। उन्होंने अपनी इस पारी के दौरान 5 चौके और 2 छक्के लगाए। राजस्थान का सातवां विकेट राहुल तेवतिया के रूप में गिरा। राहुल तेवतिया को सिराज ने 40 रन पर आउट किया। तेवतिया ने अपनी पारी के दौरान 4 चौके और 2 छक्के लगाए। हर्षल पटेल ने क्रिस मोरिस को 10 रन पर आउट कर टीम को आठवीं सफलता दिलाई। अगली ही गेंद पर हर्षल पटेल ने चेतन सकारिया को शून्य पर आउट कर अपना तीसरा शिकार बनाया। लक्ष्य का पीछा करने आई बेंगलुरु की टीम को कप्तान विराट कोहली और देवदत्त पडिक्कल ने तेज शुरूआत दी। दोनों ही सलामी बल्लेबाजों ने पावरप्ले के दौरान टीम के स्कोर को बिना विकेट गंवाए 59 रन तक ले गए। इसके बाद दोनों ही खिलाड़ियों ने राजस्थान की टीम के गेंदबाजों को कोई मौका नहीं दिया और तेजी से रन बनाए। इस मैच में विराट कोहली ने अपने 6 हजार रन भी पूरे किए। वहीं देवदत्त पडिक्कल ने आईपीएल का अपना पहला शतक लगाया। पडिक्कल ने 52 गेंदों पर 101 रन बनाए जिसमें उन्होंने 11 चौके और 6 छक्के लगाए। वहीं विराट कोहली ने 47 गेंदों पर 72 रन की पारी खेली जिसमें उन्होंने 6 चौके और 3 छक्के लगाए। दोनों ने बिना विकेट गंवाए राजस्थान की टीम को 10 विकेट से मैच हरा दिया। कोहली बोले- देवदत्त की शतक बनाने में नहीं थी दिलचस्पी, मैंने कहा... राजस्थान से 10 विकेट से मैच जीतने के बाद बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली काफी खुश नजर आए। उन्होंने देवदत्त के शतक पर भी बात की। उन्होंने कहा- यह एक शानदार पारी थी। वह पिछली सीजन में शानदार थे। 30 रन बनाने के बाद उन्होंने जिस तरह गेयर बदला वह काफी अच्छा था। ईमानदारी से कहूं तो बल्लेबाजी करने के लिए एक अच्छी पिच थी। गेंदबाज यहां अपनी लंबाई के साथ संघर्ष करते नजर आए। टी-20 क्रिकेट हमेशा साझेदारियां के बारे में है। कोहली ने कहा कि जब एक बल्लेबाज अच्छा चल रहा होता है, तो मेरे लिए यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण होता है कि मैं अपना विकेट न खोऊं। यह अन्य दिनों में बदल सकता है। हमने इसके बारे में (100 पर) बात की। उसने मुझसे कहा कि मैं मैच खत्म कर दूं, मैंने उससे कहा कि पहले शतक बना लो। उन्होंने कहा कि अभी कई लोग आने बाकी हैं। मैंने कहा हां आप कह सकते हैं लेकिन अपना शतक बनाने के बाद। वह तीन का आंकड़ा पाने के लिए योग्य था। कोहली बोले- हमारे पास (गेंदबाजी में) बड़े नाम नहीं हैं, लेकिन हमारे पास जो गेंदबाज हैं वह प्रभावी हैं। हमारी गेंदबाजी में गहराई है। वे पेशेवर हैं। हमने इस सीजन में अब तक के सबसे अधिक विकेट लिए हैं और यह ऐसा कुछ है जिस पर हम गर्व करते हैं। देव की पारी एक शानदार थी, लेकिन मैं गेंदबाजों को भी श्रेय देता हूं। पंजाब केसरी से साभार